Sexy Lund Ki Garmi – सेक्सी लंड की गर्मी

Sexy Lund की कहानी में पढ़ें कि पड़ोस में आये परिवार का एक जवान लड़का मुझे पसंद करने लगा था। मैं भी उस जवान sexy lund से चुदना चाहती थी।

हैलो, मेरा नाम समीरा है। आप Antarvasna Hindi Sex Stories पर मेरी दो कहानियो में
होटल रूम में मैं खुल कर चुदी। पढ़ चुके हैं।

Antarvasna पर यह मेरी तीसरी कहानी है।

मेरा फिगर एकदम भरा हुआ है। मैं एक गदगदराए हुए जिस्म की मालकिन हूं।

आपको आज एक और सच्ची sexy lund से चुदाई कहानी बताती हूं।

दोस्तो, हमारे पड़ोस में 2 साल पहले एक परिवार रहने के लिए आया था।

उनके घर एक अंकल और आंटी थे। उनका एक 21 साल का लड़का था। जब मैंने उस लड़के को पहली बार देखा तभी से ही वो मेरे मन में सामने लगा था। उसकी बॉडी और शारीरिक बनावट मुझे उसकी ओर खींचने लगी।

लड़का नया नया जवान था। और सेहत का खास ख्याल रखता था। देखने में भी बहुत हैंडसम था।
लेकिन लड़की होने के नाते मैं पहले पहेर नहीं कर पाई और समय ऐसे ही बीतने लगा।

धीरे धीरे पड़ोसी होने के कारण हम लोगों का उनके घर में आना जाना हमेशा होता था।
फिर एक दो बार मैं उसको लेकर मार्केट में भी गयी।

जब मुझे कोई जरूरी काम होता तो मैं उसको ही ले जाने का प्रयास किया करती थी।
वो उसकी बाइक पर मुझे ले जाता था और रास्ते में जानबूझकर तेज ब्रेक लगाता था।
मुझे भी पता था कि वो ये सब जानबूझकर कर रहा है लेकिन मैं उसे कभी कुछ भी नही बोलती थी। क्योंकि मुझे भी इसमें मजा आता था।

मैं उसको अंदर ही अंदर चाहने लगी थी। शायद मैं भी उसे अच्छी लगती थी इसीलिए वह जानबूझकर बाइक पर ये हरकतें करता था ताकि मेरे बदन का छूने का मौका उसको मिल सके।

इस तरह कई बार बाइक पर बैठे हुए मेरे दूध से भरे हुए बूब्स उसकी पीठ पर चिपक जाते थे।
मैं भी जानबूझकर आगे हो जाती थी ताकि उसको मेरे बूब्स का पूरा स्पर्श मिल सके। बहुत दिनों तक ऐसा ही चलता रहा। मेरे मन में कई बार आया की मै उसके जवान sexy lund को अपने मुंह में ले लू लेकिन ये मै नही कर सकती थी।

मुझे महसूस हो रहा था की हम दोनों धीरे धीरे करीब आ रहे थे। उसकी भी उम्र ज्यादा नहीं थी और मेरी भी उम्र सिर्फ 28 ही थी।

लेकिन अब उसके मां-बाप को उसके और मेरे ऊपर शक होने लगा था। लेकिन अभी तक हमने कोई भी रिश्ता नहीं बनाया था।

लेकिन फिर उसके मां बाप ने उसे मुझसे दूरियां बनाने को कहा।
मैंने यह बात महसूस की और मैंने उससे इसका कारण पूछा ‌तो उसने मुझे सारी बाते बता दी।

मैंने उससे कहा की ठीक है अब तुम मेरे घर पर मत आना। अगर उनको दिक्कत है तो हम फिर से नहीं मिलेंगे।

उसको मना करने के बाद मैंने खुद भी उसको कोई भी अपना काम नहीं बताया।
मैंने खुद भी उससे दूरियां बना लीं।

इन बातों को सिर्फ 15 दिन ही बीते होंगे और अब उससे मुझको देखे बिना नहीं रह गया।
वह मुझसे मिलने के लिए मेरे घर पर आ गया।
मेरे पति जॉब पर गए हुए थे।

मैंने उसे देखते ही कहा की तुम यहां क्या कर रहे हो?
वो बोला की आपको देखने और मिलने ही आया हूं। मुझे इन 15 दिनों में महसूस हुआ है की मैं आपको देखे बिना नहीं रह सकता हूं।

मैं उसकी तरफ देखकर मुस्कराने लगी और उससे कहा की अगर कुछ गलत हुआ तो लोग मुझे ही गलत बोलेंगे।

वह मेरे पास आया और मुझसे बोला की नहीं, किसी को कुछ पता नहीं चलेगा। हम सब से छुपाकर रखेंगे।
कहते हुए उसने मेरे दोनों हाथों को अपने हाथों में ले लिया और मेरे माथे को चूमने लगा।

भावुक होकर वो बोला की आप चाहे मुझसे कुछ भी ले लो, पर मुझसे दूर मत जाओ। जो मेरा है वो मैं आपको सबकुछ देने के लिए तैयार हूं।
मैंने कहा नहीं, मुझे कुछ नहीं चाहिए।

मैं उसकी आंखों में देख रही थी और वो मेरी आँखों में देख रहा था। हम दोनों जैसे एक दूसरे के साथ मिलन करना चाह रहे थे। लेकिन कोई भी पहली पहल नहीं कर पा रहा था।

फिर उसने मेरे बाल मेरे कान से हटा दिए और मेरी गर्दन और मेरे कानों को चूमने लगा । मेरी भी आंखें उसकी गर्मी को महसूस करते हुए बंद होने लगीं।

उसने मुझे अपनी बांहों में भर लिया और मेरे भी हाथ उसकी कमर में चले गए। उसने मुझे कसकर पकड़ रखा था। मैंने भी उसे अपनी ओर खींच रखा था।

हम दोनों ने एक दूसरे को जोर से गले लगाया हुआ था। और फिर हम पूरी तरह एक दूसरे से लिपट गये।
मैंने बोला रुको, मैं दरवाजा बंद करके आती हूं। कोई अचानक आ गया तो मुसीबत हो जायेगी।

फिर मैं गयी और दरवाजे की कुंडी अंदर से बंद करके आ गयी।
आते ही उसने मुझे फिर से अपनी बांहों में भर लिया। मैं भी उससे जोर से लिपट गयी।
मेरे boobs उसके सीने से सट गये। हम दोनों ने एक दूसरे को कस कर लिपट लिया।

अब उसका प्यार और मेरी वासना दोनों मिल गये थे। वो मेरी गर्दन को धीरे धीरे चूमने लगा और मैं उसके होंठों के नर्म चुम्बनों से मदहोश सी होने लगी।
वो बहुत ही प्यार से मुझे चूम रहा था। उसके बाल मेरे गालों पर लग रहे थे और मुझे बहुत ही तेज वासना महसूस हो रही थी।

फिर हम पलंग पर आ गए और उसने मुझे नीचे लिटा दिया। फिर एक दूसरे की बगल में होकर हम लिपट गये। और मेरे होंठ उसके होंठों से मिल गये।
वो मेरे होंठों पर होंठों को रखकर उनको चूसने लगा और मैं भी उसके होंठों को चूसने लगी।

वो sexy lund का जवान लड़का था। और उसकी जवानी उसके sexy lund के साथ पूरे जोश में थी। धीरे धीरे करते करते उसका जोश बढ़ने लगा और वो मेरे होंठों को काट काट कर चूसने लगा। मुझे और ज्यादा मजा आने लगा।
मैं भी उसका साथ देने की पूरी कोशिश कर रही थी।

हम दोनों एक दूसरे को खूब चूमने चाटने लगे। नीचे उसका sexy lund खड़ा हो चुका था जो मुझे उसकी पैंट के अंदर से अपनी जांघ पर चुभने लगा था।
उसका sexy lund उसकी पैंट में खड़ा होकर करंट मारने लगा था।

इतने जवान sexy lund का स्पर्श मैंने पहली बार महसूस किया था।
पैंट में से देखने पर sexy lund काफी जाड़ा भी लग रहा था।

फिर उसने मेरा कुर्ता पूरा ऊपर उठाकर निकाल दिया। और मेरी ब्रा में मुंह देकर मेरे boobs को सूंघने लगा।
मैंने उसके सिर को अपनी छाती में दबा लिया।

वो अपनी नाक को बार बार मेरे boobs की घाटी में रगड़ रहा था और मुझे इसमें बहुत मजा आ रहा था। फिर उसने मेरे पजामे का नाडा खोलकर नीचे को सरका दिया।

अब मैं नीचे से और ऊपर से आधी नंगी हो गई थी। मेरे जिस्म में चुदाई का नशा चढ़ने लगा था। मुझे अपने नंगेपन का अहसास हो रहा था। वो मेरी ब्रा के ऊपर से मेरे boobs को दबाने लगा।

अब उसका एक हाथ बीच बीच में मेरी चड्डी पर भी जा रहा था जो मेरी चूत को छूकर और सहलाकर फिर से मेरे बूब्स पर आ रहा था। इसी दौरान मैंने उसके सारे कपड़े निकाल फेंके। उसके बदन पर सिर्फ उसकी चड्डी रह गई थी।

उसकी चड्डी में उसका sexy lund पूरा गर्म होकर डंडे के जैसा सख्त हो चला था।
मेरी नंगी जांघों पर उसके sexy lund के टोपे से उसका कामरस लगने लगा था।
मुझे इससे बहुत अधिक वासना हो रही थी।

मैं चाह रही थी कि उसके गर्म sexy lund को हाथ में पकड़ कर देखूं और उसे अपने मुंह में ले लू मगर फिर मैंने सोचा कि ये अब दो मिनट बाद ये खुद ही पूरा नंगा हो जायेगा।

उसको मैंने नीचे लिटाया और उसके जिस्म को ऊपर से नीचे तक चूमने लगी।
मैं उसकी छाती के ऊपर थी और इतने में उसने मेरी ब्रा के बटन खोल दिये। और उसने मेरी ब्रा को मेरे जिस्म से अलग कर दिया और मेरी चूचियां नंगी होकर उसकी छाती पर चिपक गयीं।

फिर उसने वहीं से मेरी चूचियों को पूरा अपने मुंह में भर लिया और मैं उसके ऊपर लेटी हुई उसको अपनी चूचियां पिलाने लगी।
मेरी चड्डी के ऊपर से उसके हाथ मेरी गांड को दबा रहे थे।

उसका sexy lund मुझे मेरी चड्डी पर महसूस हो रहा था। मेरी चूत उसके sexy lund का स्पर्श महसूस कर पा रही थी लेकिन चड्डियों की दीवार अभी भी बीच में थी।

फिर उसने मेरी चड्डी को निकाल कर नीचे सरका दिया। और मैने उसकी चड्डी को निकाल फेंका। अब मेरी गांड नंगी थी और चूत भी नंगी होकर उसके नंगे sexy lund से जा सटी।

उसके sexy lund का गीलापन मुझे मेरी चूत और उसके आसपास महसूस हो रहा था। फिर अपना गर्म sexy lund उसने मेरी चूत से सटा दिया।

sexy lund का सीधा स्पर्श पाते ही मेरी चूत भड़क उठी; मेरा मन कर रहा था कि वह अपना sexy lund जल्दी से मेरी चूत में घुसा दे। और मेरी वासना को मिटा दे।

फिर उसने मुझे नीचे लिटाया। और मेरे boobs को जोर जोर से दबाते हुए उसका दूध पीने लगा।
मेरे मुंह से सिसकारियां निकल पड़ीं। आह्ह … आह् … आराम से … ओह्ह … आह्ह … इस्स … ओह्ह … जोर से … उम्म … ओह्ह … पूरा पी जाओ।

फिर वो मेरी चूत पर आ गया और गर्म जीभ को उसने मेरी चूत पर रख दिया और उसको मदमस्त होकर चाटने लगा।
मेरी चूत पहले से ही गीली हो रही थी। मैं तड़प उठी और उसकी जीभ को चूत के अंदर तक रास्ता देने लगी।

अब मेरा मन sexy lund को चूत में लेने का कर रहा था। वो भी मेरी आंखों में मेरी इस चुदास को देख पा रहा था। उसने मेरे चूतड़ों पर हाथ लगाया और मुझे अपनी ओर खींच लिया।

मेरी चूत उसकी लार और कामरस से एकदम गीली और चिकनी हो रही थी।
उसने अपने sexy lund को मेरी चूत पर लगा दिया। फिर उसने आगे धक्का देने की बजाय मुझे ही एक झटका दे कर अपने sexy lund की तरफ खींच लिया। उसका गर्म sexy lund एकदम से पूरा मेरे चूत के अंदर चला गया।

वो अब मेरे boobs को चूसने और चाटने लगा। मेरे शरीर में गुदगुदी सी भरने लगी।
मैंने भी प्रत्युत्तर में अपनी चुचियों को उसके हाथों से दबवा दिया।

फिर मैंने उसके चूतड़ों को दबाकर सहलाना आरंभ कर दिया। उसका sexy lund और ज्यादा कठोर होता हुआ मुझे अपनी चूत में महसूस हो रहा था।

वो मेरी चूत में धीरे धीरे धक्के लगाने और मुझे मजा आने लगा। उसका सख्त sexy lund मेरी चूत में पूरा भर गया था। और चूत की दीवारों से रगड़ खाते हुए मुझे बहुत आनंद दे रहा था।

चोदते हुए वह मुझे बड़े प्यार से देख रहा था। हम दो जिस्म एक जान होने की बहुत कोशिश कर रहे थे।
जबरदस्त धक्के दोनों तरफ से लग रहे थे। मेरी चूत उसके sexy lund को पूरा निगल लेना चाहती थी।

मै जवान sexy lund की चुदाई से मैं बहुत ही आनंदित हो रही थी। मेरे बदन का रोम रोम खिल रहा था। फिर 15 मिनट तक चुदते हुए मैं अपनी उत्तेजना के चरम सीमा पर आ गयी और एकदम से चीखती हुई झड़ने लगी।

मेरा सारा रस निकलने लगा। लेकिन वो अभी तक नही झड़ था। शायद उसका प्यार उसे झड़ने नही दे रहा था। तभी उसने भी अपना पूरा जोर लगाकर धक्के देना शुरू किया और उसका sexy lund अब पत्थर जैसा सख्त महसूस होने लगा।

कुछ पलों के बाद उसकी गति धीमी पड़ने लगी और मुझे मेरी गर्म चूत में गर्म गर्म तरल महसूस हुआ। उसका वीर्य मेरी चूत में ही निकल चुका था। हम दोनों के रसों का मिश्रण मेरी चूत में इकट्ठा हो गया। दोनों का मिलाजुला रस मेरी अभी अभी चुदी हुई चूत से बाहर निकलने लगा। आधी खुली आंखों से हम एक दूसरे को देखने लगे। और चूमने लगे।

मुझे जवान sexy lund से चुदाई कर के बहुत मज़ा आया। मै उसके sexy lund की वासना में को गई। और वो भी मेरे बदन की गर्मी में को गया।

कहानी कैसी लगी इस बारे में नीचे कमेंट करे।

Related Stories

मजबूरी में चुदाई का काम – Call boy sex job service

Antarvasana के सभी पाठकों को का मेरे यानी गुरप्रीत की तरफ से स्वागत है। उम्मीद करता हु की आपको Antarvasna की सभी chudai ki kahani बहुत पसंद आती होगी। यह मेरी दूसरी kahani है। मेरी पहली sex kahani आप सब ने पढ़ी ही होगी। जिन्होंने मेरी पहली call boy kahani नहीं पढ़ी मै उनके लिए

पूरी कहानी पढ़ें »

Bhabhi Ki Chudai – चॉल वाली भाभी की जोर जोर से चुदाई

मेरा नाम सागर है। मै anatrvasna कि कहानियां को हमेशा ही पढ़ता हु। और पढ़कर मै अपने लंड को हिला कर खुदको शांत कर लेता हु। आज आपको bhabhi ki chudai पढ़ के काफी मजा आने वाला है। Anatarvasna मेरी सबसे favorite story एक दिन अनजान भाभी के साथ ये है। आप भी इसे पढ़िएगा, आपको

पूरी कहानी पढ़ें »

लेडी डॉक्टर की गांड चुदाई

Sexdunia.in पर मेरी ये पहली कहानी है। मैंने Antarvasna पर कहीं कहानियां पढ़ी है। जिससे मुझे Doctor कि चुदाई में बहुत Help हुई। मुझे Antarvasna की सहेली को मेरे पति से मैंने हो चुदवाया यह कहानी बहुत पसंद आई थी। आप भी इसे पढ़िएगा। चलिए मेरी कहानी की शुरुवात करते है। यह कहानी पिछले महीने

पूरी कहानी पढ़ें »