ऑफिस की सेक्सी भाबी बॉस

सेक्स दुनिया में पढ़े की कैसे ऑफिस में काम करने वाला मै जिसने अपनी सेक्सी बॉस को चोदा और वो मेरी दीवानी हो गई। फिर वो हमेशा ही मुझे उसे चोदने के लिए बुलाया करती थी।

ये कथा पढ़ने वालों को मेरा नमस्कार। मेरा नाम प्रवीण है। मेरी उमर 28 साल है। मै दिल्ली का रहने वाला हूं। मै अपनी सेक्सी बॉस को चोदने की कथा बता रहा हूं।

मै जिस ऑफिस में काम करता था, वह की बॉस बहुत ही हॉट और सेक्सी भाबी थी। जब से में उस ऑफ़िस में काम करने गया था तब से में उस भाबी को चोदने के सपने देख रहा था

मै जब उस ऑफिस में नया नया था तब वो मुझे देर रात तक काम करने को रुकती थी। तब रात को मेरी बॉस भी रुकती थी। रात में वो बहुत सेक्सी लगती थी। फिर आफिस खत्म होने के बाद मै अपनी बाइक से और वो अपनी कार घर चले जाते थे।

एक दिन हम ऐसे ही देर रात तक काम करने के बाद घर जाने के लिए निकले तो तब उनकी गाड़ी खराब हो गई। ड्राइवर गाड़ी सुधार ने में व्यस्त हो गया। तब मैंने उनसे पुछा की कीस मै आपको घर छोड़ दू तो उन्होंने है बोला।

फिर हम दोनो मेरी बाइक पर निकल गए। रास्ते में बहुत ट्रैफिक था। तो मै बार बार गाड़ी के ब्रेक लगा रहा था, तब झटका लगने की वजह से वो मुझे पकड़ रही थी। ट्रैफिक तक तो ठीक था तब अचानक सामने एक स्पीड ब्रेकर आ गया तो मैंने बहुत जोर से ब्रेक लगाया, तब उन्होंने मुझे बहुत जोर से पकड़ लिया। तब उनका हाथ मेरे जांघों पर आ गया। जुट तब मेरा लंड उछल उछल के उसे चोदने को बोल रहा था।

कीसी तरह मैंने अपने लंड को संभाला और सेक्सी बॉस को घर छोड़ दिया। मै जब घर आया तब मेरे मन में वही बात चालू थी। वो बात सोच सोच के मैंने अपने लंड को जोर जोर से हिला के मूठ मारी।

अगले दिन मैं अपने आफिस पहुंचा। तब मेरी बॉस में कल रात के लिए शुक्रिया कहा। और बोला की मेरी गाड़ी कल ठीक हो जायेगी तो क्या तुम मुझे आज भी घर छोड़ सकते हो। तब मेरा लंड खुश हो के खड़ा हो के नाचने लग गया। मैंने बोला हां एमजेआई आपको आज भी छोड़ दूंगा आपके घर।

वो दिन खत्म हुआ और उनको घर छोड़ने का समय आया। मैंने फिराए उनको अपनी गाड़ी पर बिठाया और उनको घर छोड़ने निकल गया।

रास्ते में कल जैसा ही ट्रैफिक था लेकीन उन्होंने खुदकी मर्जी से मेरे झांघो पर हाथ रख दिया। आज तो मेरा लंड रहने को ही तैयार नहीं था। वो उछल उछल के बोल रहा था की मुझे आज कुछ भी करके इस भाबी की चूत में जाना है। मुझे तो जिसे लग रहा था की भाबी केजेड हाथ पकड़ के मै अपने लंड पे रखके उसे मुंह में लेने को बोली।

मै उनके घर पहुंचा। तब मै निकल ही रहा था की उन्होंने मुझे अन्दर बुलाया। मैंने मना कीया लेकीन वो जबरदस्ती मुझे अंदर ले के गई।

मैंने पूछा मैडम आपके पती घर पर नहीं है क्या, तो उन्होंने बोला की मेरे पति महीने में एक ही बार आते है। वो अपने बिसनेस की वजह से बाहर ही रहते है। तब मेरे मन में लड्डू फूटा की आज शायद मेरी बॉस को चोदने का मौका मिलेगा।

मुझे नहीं पता था की उनके पति कई दिनों तक घर से बाहर रहते है। मै घर पे जाकर खुर्ची पर बैठ गया। मेरी सेक्सी बॉस अपने कपड़े बदलने के लिए अन्दर चली गई। कुछ देर तक एमजेआइ घर को देख रहा था। कुछ देर बाद वो बाहर आई। वो बहुत ही छोटे कपड़े पहने के बाहर आई। उसमे उनकी गोरी गोरी चिकनी टांगें दिख रही थी।

उनको उस हालत में देख कर मेरे अन्दर का सेक्स का कीड़ा जाग रहा था। फिर उन्होंने मेरे लिए पानी लाया तब वो।बहुत ही सेक्सी लग रही थी।

मैंने जब उनको पानी का ग्लास वापस कीया तब उनके हाथ मेरे हाथोको बड़े प्यार से चूम रहे थे।
ग्लास लेके उन्होंने कहा की आराम से बैठ जाओ टेक कर।

वो भी मेरे साथ बैठ गई। उसमे उनकी गोरी गोरी टांगें दिख कर मेरी अन्तर्वासना जाग रही थी। फिर मै खुद आराम से हो गया, लेकीन मेरी सेक्सी बॉस के साथ अकेले इतनी रात को देख कर मेरा लंड आराम से नहीं हो रहा था। वो चीख चीख के बोल रहा था की मुझे इसकी सेक्सी चूत में जाना है।

वो मेरे साथ ही बैठी थी। तो मैंने पूछा मैडम आपके पति कीतने दिन में घर आते है, तो उन्होंने कहा की कभी 15 दिन में आते है तो कभी 20 दिन में। तो मैंने बोला की क्या आप अकेले ही रहती हो क्या रोज रात को, तो उन्होंने कहा हां… मेरे घर में सिर्फ मै और मेरा अकेलापन रहता है।

तब उनकी आंख भर आई। तो मैंने उनका सर अपने कंधे पर रखा। उनको सहलाते हुए मै उनका दर्द बाटने की कोशिश कर रहा था।

मेरे कंधे पर रोते रोते उनका हात मेरी मांडी पर आ गया। तब मेरा लण्ड पूरा खड़ा हुआ और पैंट की साइड से थोड़ा ऊपर दिख रहा था। मै डर रहा था की बॉस को मेरा तड़पता हुआ लंड नए दिख जाए। लेकीन शायद मेरी बॉस ने उसे देख लिया था। इसीलिए थोड़ी ही देर में उन्होंने मेरे लंड पर हाथ रख लिया।

तब मेरे मन में उसे चोदने की आग लग गई। हम दोनो की अन्तर्वासना जाग रही थी। फिर हम दोनो एक दूसरे को लिपट गए। औरहमारे ओंठ एक दूसरे को चूमने लगे।

मैंने मेरी बॉस को वही सोफे पर गिरा दिया। और उनकी गर्दन को आराम आराम से चूमने लगा।
और वो भी मेरे बालों को और पीट को पकड़ कर अपनी तरफ खींच रही थी।

उनकी अंतर्वासना जाग गई थी। उनकी हल्की हल्की आवाज निकल रही थी आह…. प्रवीण बहुत अच्छे आह…

वो बोली प्रवीण मेरे अंदर बहुत दिनो से सेक्स करने की प्यास थी पर मेरे पति मेरी वासना को पूरा नहीं कर सकते। आज मौका मिला है तुम्हे तो मुझे पूरा संतुष्ट करना। मैंने बोला हां मैडम आज मै आपको पूरा निगल ही जाऊंगा।

फिर हम दोनो जोर जोर से एक दूसरे के ओठोंको चूमने लगे। चुनते समय मै उनकी चूचियों को जोर जोर से दबा रहा था। उनके इठोंको आरएएस मेरे अंदर का जानवर जगा रहा था।

अब मेरा हाथ उनकी चूचियों से नीचे सरक रहा था। सरकते सरकते उनकी स्कर्ट तक पहुंच गया।स्कर्ट से उनकी चूत को छू लिया। उनकी चूत को छूते ही, मेरी वासना बाद गई। फिर मैंने उनकी चूत को जोर से पकड़ लिया और स्कर्ट के ऊपर से ही उनकी चूत को सहलाता रहा।

फिर मैंने उनकी स्कर्ट उठाई और उनकी प्यासी चूत पर सहलाने लगा, तब उनके मुंह से आवाज़ निकालना चालू हुआ आह… प्रवीण… आह…। उन्होंने कहा प्रवीण मुझे लगता है आज तुम मुझे बहुत दर्द देने वाले हो। लगता है आज मेरी कामुकता को तुम मिटा ही दोंगे। मैंने कहा हां मैडम, मेरे मन में तो जब से मैंने आपको पहली बार देखा था तबसे हो मुझे अजपको चोदने की इच्छा हो रही थी।

फिर मैंने उनके ऊपर के टॉप को निकाला उनकी सिर्फ ब्रा रह गई थी। फिर मैंने उनकी स्कर्ट निकली, उन्होंने चड्डी नहीं पहनी हुई थी। तब वो पूरी तरह से नंगी हो गई थी सिर्फ उनकी ब्रा बच्ची हुई थी जो उनके चूचियों के नीचे लटक रही थी।

फिर सोफे पर लेटते लेटते ही उनके पैरो को दूर कीया और और उनके चूत के आजू बाजू हल्की हल्की पप्पी लेने लगा। उन्होंने कहा चूत को ही पप्पी ले लो ना। तो मै सीधा उनकी चूत को चाटने लगा। चाटते समय उन्होंने मेरे बाल पकड़े और मुझे अपनी चूत की तरफ खींचने लगी।

कुछ देर तक चूसने के बाद मै उनकी चूत में अपनी बड़ी ऊंगली डाल कर अन्दर बाहर करने लगा। तब वो अपनी चूत उठाकर मिरी ऊंगली को और अंदर घुसाने का प्रयास कर रही थी। तब मै समझ गया की अब भाबी को चोदने का समय आ गया है।

कुछ देर बाद मैडम खुद ही बोली की मुझे कीतना इंतेज़ार करवाओगे। तब मैंने बोला मै आज आपकी चुदाई पूरे जोर शोर से करूंगा लेकीन आपने तो मेरे लंड का हाल चाल ही नहीं पूछा।

तब वो खड़ी हुई। मेरे शर्ट पैंट उतारी। फिर उन्होंने मेरी चड्डी के ऊपर से मेरे लंड को पकड़ के सहलाना चालू कीया। फिर वो अपने घुटने के बल नीचे बैठ गई। मेरी चड्डी नीचे की और मेरा खड़ा हुआ हुआ लंड लहराने लगा।

फिर उन्होंने एक हाथ मेरी जांघों पर रखा और एक हाथ से लंड पकड़ कर चूसने लगी। उनकी लंड की चुसाई में बहुत मजा आ रहा था।

जब मुझे लगा की अब मेरे लंड को प्यासी चूत होना तो मैंने अपना लण्ड उनके मुंह से निकला और उनको सोफे पर धक्का देकर गिरा दिया। फिर उनकी दोनो टांगो को बाजुमे कीया। और उनकी टांगों के बीच में से होकर उनके ऊपर लेट गया। और उनकी चूचियों को चूसने लगा।

वो बोली चोद दो अब प्रवीण अब नहीं रुका जा रहा है। तो मैंने बोला रुक जा साली अभी मै तेरे को चोदता हू। फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत पर घिसने लगा। घिसते घिसते मैंने जोर से झटका देकर उसे अंदर डाल दिया। और उनके मुंह से जोर से आवाज निकली आह……………।

लंड अन्दर जाने के बाद मैंने लंड को अंदर बाहर करते हुए धक्के देना चालू कर दिया। उनके मुंह से आवाज निकलने लगी। आह…ऊओऊ…….अह्ह्ह्ह्ह…… जोर से अह्ह्ह्ह…. और जोर से आह…….।

मै उसकी चूचियों पर हाथ रख कर उसको चोदता जा रहा था वो मेरी बॉस जैसे मेरे लंड को अंदर आते देख मदहोश हो रही थी।

फिर मैंने उसकी चूचियों से हाथ हटाकर उनकी टांगें पकड़ कर खुद को खींच कर जोर जोर से पूरी स्पीड में चोदने लगा।

थोड़ी देर की चुदाई के बाद मेरा निकलने को था, तो मै और जोर जोर से धक्के मरने लगा। मेरा लंड उनकी चूत में पूरी तरह से घुस रहा था। है धक्के के साथ उनकी आवाज निकल रही थी।

दस बारह धक्कों के बाद मै उनकी चूत में झड़ने लगा। तो उन्हें मेरी गान्ड पर पैर रख कर अटका लिए और मेरे लण्ड को अपनी चूत में खींच रही थी। शायद वो भी झड़ गई थी। फिर वो बाथरूम में जाकर साफ होकर आई। मैंने अपने कपड़े पहने। उन्होंने भी अपने कपड़े पहने। फिर उन्होंने मुझे प्यारिसी चुम्मी दी और मै वहां से निकल गया

अगले भाग के लिए कमेंट ( comment ) करे।

Related Stories

Desi Bhabhi Ki Kahani – देसी भाभी की कहानी

दोस्तो, आज मै आपको desi bhabhi ki kahani सुनाने जा रहा हु। मैं राकेश उर्फ़ रॉकी, उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद से हूँ। मेरी हाइट 5 फुट 6 इंच है। और मेरे land का साइज 7 इंच है। मेरी बॉडी कमाल की है। इस सेक्स दुनिया पर यह मेरी दूसरी सेक्स कहानी है। अगर कहानी में

पूरी कहानी पढ़ें »

Desi Chudai – Desi bhabhi ki chudai बॉयफ्रेंड से चुदाई का मजा कैसे ले?

Desi Sex पर आप सभी पाठकों का स्वागत है। मेरा नाम सविता है। मैं १९ साल की हूँ। मेरा फिगर 36-24-36 का है। देखने में मैं गजब कि माल लगती हूँ। क्योंकि sexy शब्द मेरे लिए कम होगा। अगर कोई भी जवान या फिर बूढ़ा लंड मुझे देखेगा तो मुझे देखकर अंदर ही झड़ जाएगा।

पूरी कहानी पढ़ें »

Bhabhi Ki Chudai – चॉल वाली भाभी की जोर जोर से चुदाई

मेरा नाम सागर है। मै anatrvasna कि कहानियां को हमेशा ही पढ़ता हु। और पढ़कर मै अपने लंड को हिला कर खुदको शांत कर लेता हु। आज आपको bhabhi ki chudai पढ़ के काफी मजा आने वाला है। Anatarvasna मेरी सबसे favorite story एक दिन अनजान भाभी के साथ ये है। आप भी इसे पढ़िएगा, आपको

पूरी कहानी पढ़ें »