लंबा लंड और गहरी चूत की कहानी

सेक्स दुनिया पर आप सभी का स्वागत है। मेरा नाम सोहम है। मै अभी १८ साल का हु। और मेरे desi lund का साइज ५ इंच का है। मुझे लड़कियों से ज्यादा अनुभवी आंटिया बहुत पसंद है। मै बहुत ही छिछोरा हु। मै किसी भी आंटी को वासना की नजर से देखता हु।

मेरा कद ५.५ फीट का है। और मेरे लंड का साइज ५ इंच का है। मै मथुरा का रहने वाला हु। मै १२ वि कक्षा में पढ़ता हूं इसीलिए मैंने ट्यूशन क्लास लगाई थी। चलिए ज्यादा बाते ना करते हुए कहानी चालू करते है।

मेरे घर और मेरे ट्यूशन के बीच एक सब्जी मंडी लगती थी, जहाँ से मैं हमेशा सब्जी लेता था। मैं जब भी ट्यूशन जाता या ट्यूशन से वापस आता, तो उसी रास्ते से निकलता था। वो एक भीड़ भाड़ वाला इलाका था, तो मुझे वहां अच्छी अच्छी माल मतलब भाभियां, आंटियां वगैरह दिख जाती थीं, जिन पर मैं अपनी पौनी नज़र गड़ाकर कुछ रुक कर देखता और गुजर जाता था। मतलब मैं अपनी आंखें सेंकने के लिए ही वहां से गुजरता था। कभी कभी तो। मेरा desi lund भी खड़ा हो जाता था।

वहीं पास में एक 5 मंजिल अपार्टमेंट था, जिसमें केवल कुछ 6 से 7 कामकाजी औरतें रहती थीं। उनमें से एक, जिनका नाम निकिता था, शायद वो मुझपर कई दिनों से नजर रख रही थीं कि मैं रोज यहाँ से ही क्यों गुजरता हूँ। उनके मन में क्या बात थी, ये तो मुझे नहीं पता। मुझे कुछ शक हो रहा था।

उनकी खिड़की पर मेरी अक्सर निगाह जाती रहती थी। तो मैंने यह जान लिया था कि ये मेरे गुजरने को लेकर कुछ न कुछ सोचती जरूर हैं। हमारी निगाहे अक्सर ही एक दूसरे से टकरा जाती थीं।

फिर एक दिन उन्होंने मुझे इशारे से बुलाया और ऊपर आने के लिए कहा। मैं ऊपर गया तो उन्होंने मुझसे कहा कि तुम्हें शर्म नहीं आती, ऐसे खुलेआम लड़कियों और औरतों को देखते रहते हो? मैंने कहा की इसमें शर्म की क्या बात कभी किसी ने टोका ही नहीं। मै एक जवान लड़का हु मेरी नजर तो फिसलेगी ही।

उन्होंने कहा कि तुम हमेशा ज्यादा उम्र की औरतों को ही क्यों देखते रहते हो? desi lund

तो मैंने कहा की अपनी अपनी सोच या पसंद होती है। मुझे अनुभव वाली औरतें ही पसंद आती है। उन्होंने पूछा कि इससे तुम्हें क्या फायदा मिलता है? मैंने कहा की फायदा कुछ नहीं मिलता … मगर कभी कभी किसी हॉट माल को देखकर मेरा सांप पैंट के अंदर ही टाइट हो जाता है। बस इतना ही फायदा समझ लो।

वो आंख दबाते हुए बोली- तो फिर आज कोई दिखी हॉट सी? मैं बोला हाँ शायद!

उन्होंने फिर पूछा कौन?

तो मैंने बोला कि थी एक … लेकिन अभी तो आप ही हो बहुत हॉट।

इस पर वो बोली अच्छा ऐसी बात है  कभी किसी के साथ कॉफी पीने के लिए गए हो?

मैं बोला- डेट वगैरह पर तो नहीं गया लेकिन अगर मौका मिला तो डेट वगैरह में टाइम वेस्ट नहीं करूँगा मै सीधा ठुकाई करूँगा।

वो बोली कि अपने आप पर तुमको इतना कॉन्फिडेंस है, तो मेरे साथ चलेगा।

मैंने पूछा कहाँ? वो बोली यहीं कहीं घूमेंगे या पास में कोई होटल में रूम ले लेंगे।

मैंने कहा होटल का क्या मतलब?

वो बोली कि तेरी वाली डेट समझ ले मेरे साथ।

मैंने समझते हुए कहा कि ठीक है, मंगलवार शाम 4 बजे यहीं नीचे मिलूंगा … तैयार रहना।

वो बोली मैं ठीक से पूरी तैयार ही मिलूंगी।

फिर मैंने पूछा आपके पति कहाँ हैं?

वो बोली कि मेरी शादी नहीं हुयी। मै काम में इतनी व्यस्त हो गयी थी कि शादी का सोचा ही नहीं। मैंने बोला कि आपका फिगर तो बिलकुल एक शादीशुदा जैसा लगता है। वो बोली मैंने शादी नहीं की लेकिन ठुकाई बंद नहीं की| desi lund

मैं हंस कर वहा से चला गया। मैं समझ चुका था कि यह चुदना चाहती हैं। मंगलवार को जब मैं उधर पहुंचा, तो वो वहीं बाहर बैठी थी। उस दिन वो क्या क़यामत लग रही थी। मतलब उसने गुलाबी सलवार सूट पहना हुआ था। जिसमें में वो एक मस्त पटाखा लग रही थी। एक सेक्सी लड़की टाइप की आइटम, जो आपका इंतजार कर रही हो, तो उसे देख कर मेरा लंड पहले ही खड़ा होना तो बनता था। ऊपर से उसके बूब्स इतने उभरे हुए थे कि उसके कुर्ते का एक बटन हटाना भी पड़े, तब भी उसके मम्मे अपनी अकड़ खत्म न करें।

वो इस वक्त एक खूबसूरत बला लग रही थी। मुझे तो बहुत अच्छी फीलिंग आ रही थी। मैंने उनकी तारीफ में कहा- आज तो आप एकदम खूबसूरत मतलब पटाखा लग रही हो।

वो बोली अच्छा …तो क्या तुम इस पटाखे को फोड़ना चाहोगे?

मैंने कहा माचिस भी तैयार है … आप जगह तो बताओ कि कहा फटना है आपको।

वो बोली कि इतनी जल्दी क्या है.. पहले जरा घूमना हो जाए।

हम दोनों एक पार्क में गए। कुछ देर रोमांटिक सेक्सी बातें की और फिर एक रेस्टोरेंट में आ गए। जहाँ मैंने उन्हें एक गुलाब का फूल दिया। और बोला कि एक फूल के लिए दूसरा फूल मेरी तरफ से।

वापस आते समय उन्होंने मेडिकल से एक कॉन्डोम का पैकेट लिया और बोली- फूल के बदले कुछ तो देना पड़ेगा ना। और वो पैकेट अपने पास ही रख लिया। और बोली कि बस तेरी माचिस की तीली बराबर जले।

मैंने कहा की इसको पहन कर तो पूरी की पूरी डिब्बी खतम कर डालूंगा।

वो बोलीं की चलो घर चल कर देखते हैं।

इसके बाद हम दोनों उनके ही घर आ पहुंचे। उसी बिल्डिंग में दो कमरों का फ्लैट था, जिसमें वो अकेली रहती थीं। वहां पहुंच कर हम सीधा उसके बेडरूम में आ गए और पलंग पर बैठकर एक दूसरे को देखने लगे। इससे हमारे अंदर और ज्यादा वासना आग लग चुकी थी। अगले ही पल हम एक दूसरे की बाँहों में थे। और एक दूसरे को किस कर रहे थे। वो किस मेरी जिंदगी का पहला किस था, वो भी उसके साथ, जिसे मैं अंदर ही अंदर प्यार करने लगा था। उसके साथ चुम्बन करना एक ऐसा अहसास था, जिसे मैं बयान नहीं कर सकता।

किस के साथ ही उन्होंने मेरा एक हाथ अपने टाइट बूब्स पर रख दिया जिसे मैं मसलने लगा। तभी उनका एक हाथ मेरे लंड को पैंट के ऊपर से ही सहलाने में लग गया। फिर धीरे धीरे मैंने उनके कपड़े उतारे और उनके चूचियों को चूमने चूसने लगा। वो अपने मुँह से मस्त सिसकारी निकाल रही थीं। उनकी चूचियों से दूध पीकर मुझे बहुत मजा आ रहा था।

फिर मैं उनकी चूत की तरफ गया, उंगली चुत के अंदर डाली, तो वो बोली की उंगली और सब्जियों से मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता है।

मैं समझ गया कि ये अब तक अपनी उंगली या गाजर मूली से ही काम चलाती रही हैं।

इतनी खूबसूरत चूत को चूमकर मैं उस मस्त चूत के साथ खेलने लगा। मै जब उनकी चूत चूस रहा था तब उसको बहुत मजा आ रहा था। उनके मुंह से आवाजे निकलनी चालू हो गई थी। आह…..आह……आह……वाह…..आह….वाह….

फिर उसने मुझे खड़ा किया। और धीरे धीरे मेरे बदन को चूमते हुए मेरे कपड़े निकालने लगी। मै उसके सामने पूरा नंगा था। वो भी मेरे सामने नंगी खड़ी थी। फिर उसने मुझे पलंग पर धक्का दे दिया। और मेरे लंड को अपने हातो में ले लिया।

वो मेरे लंड को अच्छे से सहलाने लगी। सहलाते सहलाते उसने मेरा desi lund अपने मुंह में ले लिया। वो मेरे लंड को बड़े प्यार से चूसने लगी। मुझे उसकी लंड चुसाई बहुत पसंद आ रही थी। मेरे अंदर उसकी चूत चोदने का भूत चढ़ गया।

थोड़ी देर बाद लंड चुसाई पूरी हुई। और फिर उसने मेरे लंड पर कंडोम चढ़ा दिया। मैंने उसकी चूत में थूक लगाकर एक ही बार में लंड अंदर घुसेड़ दिया। उसकी सील टूटी हुई थी और मैंने जोर से लंड डालने का दर्द वो किसी तरह से झेल गईं। मैं थोड़ी देर आराम से धक्के मार रहा था। और फिर दनादन पेलने लगा। मै उसको बहुत ही जोर जोर से चोदने लगा।

उसकी चूत में अंदर बाहर करते हुए मेरा लंड मुझे दिख रहा था। उससे मुझे और जोश आ रहा था। उसकी आवाजे भी मुझे उत्तेजित कर रही थी। आह…आह….आह… और जोर से…..और जोर से….आह…… 

उसकी आंखे बंद थी। मैंने उसको अपनी आंखे खोलने के लिए कहा। उसने अपनी आंखे खोली और मेरी आंखो में देखने लगी। फिर मै उसके ऊपर लेट गया। और धक्के मारते मारते उसको किस करने लगा। उसकी आवाजे मेरे मुंह में दब गई थी। 

मै उसकी चूत को जोर से चोद रहा था। तब वो मेरे पीठ को अपने नाखूनों से नोंच रही थी। साधा सेक्स अब वाइल्ड सेक्स में बदल गया था। वो मेरे होंठों को भी काट रही थी। फिर 15 मिनट बाद मेरा वीर्य गिर गया। और मेरा लंड भी मुरझा गया।

उसकी संतुष्टि अभी तक हुई नहीं थी। तो उसने मेरे मुरझाए हुए लंड को अपने मुंह में ले लिया। थोड़ी ही देर में मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया। मै उसे फिर से चोदने के लिए तैयार हो गया।

फिर मैंने उसे डॉगी स्टाइल में होने के लिए कहा। और उसकी चूत में अपना लंड फिर से डाल दिया। और जोर जोर से झटके मरने लगा। उसकी आवाजे निकलनी फिर से चालू हो गई थी। मै उसकी गांड़ पर झापड़ भी मार रहा था। करीब करीब 15 मिनट कि चुदाई के बाद मै और वो साथ में ही झड़ गए।

चुदाई के बाद मैंने उससे पूछा कि क्या आपको मजा आया। तो वो बोली हां मुझे तुम्हारे desi lund से बहुत मजा आया। फिर वो बोली की क्या तुम मुझे अपनी गर्लफ्रेंड बनाओगे। और फिर मुझे रोज चोदना। मैंने कहा चोदने के लिए गर्लफ्रेंड बनाने की क्या ज़रूरत है। मै तो तुम्हे कभी भी चोद सकता हु।

यह कहकर मै वहा से निकल गया। कहानी कैसे लगी इस बारे में नीचे कॉमेंट करे।

Related Stories

Randi Sex Randikhane Me – रंडी सेक्स रंडीखाने में

Randi Sex कहानी मे पढ़िये कि कैसे मौसी ने मुझे बना दिया रंडीखाने की रंडी। मौसी randi sex का काम करती थी। हम लोग 8 बजे मौसी के कमरे में थे। मौसी ने मेरे और सुमन के लिए कमरे में ही खाना ला लिया। खाने में मुर्गे की टांगें और कलेजी थी। मौसी बोली लो

पूरी कहानी पढ़ें »

Sexy Lund Ki Garmi – सेक्सी लंड की गर्मी

Sexy Lund की कहानी में पढ़ें कि पड़ोस में आये परिवार का एक जवान लड़का मुझे पसंद करने लगा था। मैं भी उस जवान sexy lund से चुदना चाहती थी। हैलो, मेरा नाम समीरा है। आप Antarvasna Hindi Sex Stories पर मेरी दो कहानियो मेंहोटल रूम में मैं खुल कर चुदी। पढ़ चुके हैं। Antarvasna

पूरी कहानी पढ़ें »

मजबूरी में चुदाई का काम – Call boy sex job service

Antarvasana के सभी पाठकों को का मेरे यानी गुरप्रीत की तरफ से स्वागत है। उम्मीद करता हु की आपको Antarvasna की सभी chudai ki kahani बहुत पसंद आती होगी। यह मेरी दूसरी kahani है। मेरी पहली sex kahani आप सब ने पढ़ी ही होगी। जिन्होंने मेरी पहली call boy kahani नहीं पढ़ी मै उनके लिए

पूरी कहानी पढ़ें »