Bhabhi Ki Chudai – चॉल वाली भाभी की जोर जोर से चुदाई

मेरा नाम सागर है। मै anatrvasna कि कहानियां को हमेशा ही पढ़ता हु। और पढ़कर मै अपने लंड को हिला कर खुदको शांत कर लेता हु। आज आपको bhabhi ki chudai पढ़ के काफी मजा आने वाला है। Anatarvasna मेरी सबसे favorite story एक दिन अनजान भाभी के साथ ये है। आप भी इसे पढ़िएगा, आपको भी अच्छी लगेगी।

 आज मैं आप सबको एक नई और सच्ची chudai ki kahani सुनाने जा रहा हूँ। मैं इस कहानी का श्रेय Antarvasna को ही देना चाहूंगा। क्योंकि Antarvasna की कहानियों से प्रेरित होकर ही मैंने एक Bhabhi को पटा लिया। आज उसी Bhabhi Sex ki kahani को मैं आप सबके साथ share करने जा रहा हूँ।

अब अधिक time जाया ना करते हुए मैं अपनी bhabhi ki chudai पर आता हूँ। मैं एक साधारण सा लड़का हूँ। मेरी height ५ फीट ८ इंच है। और मेरे लंड का size ७ या ८ इंच तो नहीं लेकिन ६ इंच तो कम से कम होगा ही। और यह लंड किसी भी औरत को संतुष्ट करने के लिए काफी है।

बात उन दिनों की है जब हम colony में खेलते थे। हमारी building के सामने वाली चॉल में एक bhabhi रहने आई। वह अपने पति के साथ ही रहती थी। उसका नाम कविता था। अगर मैं उसके बारे में बताऊं तो मुझे सबसे ज्यादा जो बात उसमें पसंद थी वह था उसका गद्दे जैसा figure। उसके बड़े बड़े boobs करीब ३८ के size के थे। और उसकी गांड भी ३६ से कम नहीं थी। उसको देख कर कोई कह ही नहीं सकता था कि यह bhabhi २ बच्चे पैदा कर चुकी है। हम सब kamine dost यही सोचते थे कि कभी इसको चोदने का chance मिल जाए।

उसको चोदने की फिराक में तो हम सारे ही दोस्त रहते थे। लेकिन मैंने अपनी तरफ से planing शुरू कर दी थी। मैं bhabhi को फंसाने की planing करता रहता था।

उसका पति बाजार में काम करता था। वह सुबह लगभग ३ बजे ही निकल जाता था। और शाम को 8 बजे वापस आता था। मैंने एक week यही सब देखने में निकाल दिया कि वह किस time घर से निकलता है और फिर वापस कब आता है। फिर मैंने धीरे-धीरे bhabhi के बच्चों को chocklate देना चालू किया और इस बहाने bhabhi के करीब जाने के बहाने ढूँढ रहा था।

होते-होते bhabhi भी मेरे साथ comfortable हो गई। bhabhi कई बार मुझे देख कर smile देती थी। और मेरा दिन बन जाता था।

फिर एक दिन bhabhi ने मुझे ऐसे ही उनके घर बुला लिया। हम लोग सोफे पर बैठ कर बातें करने लगे। bhabhi ने लाल रंग की साड़ी पहन रखी थी। bhabhi के जालीदार ब्लाउज के नीचे उसकी लाल रंग की bra भी मुझे दिखाई दे रही थी। जब मेरी नज़र bhabhi की bra पर पड़ी तो मेरे लंड ने भी ऊपर उठाना शुरू कर दिया।

वह अंदर से मेरे लिए पानी लेकर आ रही थी, लेकिन इतने में उसका बच्चा भागता हुआ आया और उसने पानी की plate पर हाथ मार दिया। पानी का ग्लास bhabhi के ब्लाउज से उसके बदन से भिगाता हुआ नीचे गिर गया।

भीगे ब्लाउज में bhabhi के चूचों की shape भी उभर कर आ गई। bhabhi ने बच्चे को डांटा और फिर मेरी तरफ देखा तो मैं उसके boobs को ही घूर रहा था। bhabhi अपने पल्लू से अपने भीगे ब्लाउज को छिपाने की कोशिश कर रही थी।

डांटने के कारण bhabhi का बच्चा रोने लगा और उसे चुप करने के बहाने मैंने उसे chocklate पैसे देकर बाहर भेज दिया। bhabhi अंदर अपने ब्लाउज को change करने के लिए गई हुई थी। मैंने चुपके से दरवाज़ा अंदर से बंद कर लिया। मेरा लंड bhabhi की चुदाई के बारे में सोच-सोचकर तना हुआ था।

जब bhabhi ब्लाउज बदलकर बाहर आई तो पूछने लगी की मुन्ना कहां गया है और ये कुंडी किसने बंद की है?

उस वक्त मुझे पता नहीं कौन सा भूत सवार था, मैंने bhabhi को अपनी बांहों में भर लिया और उसके boobs को दबा दिया। वह उचक कर एकदम पीछे हट गई और चिल्लाने लगी।

मेरी तो वहीं पर गांड फट गई। जल्दबाजी में क्या कर बैठा मैंने सोचा सागर आज तो तू फंस गया। फिर जो हुआ वह मेरी समझ के बिल्कुल बाहर था. bhabhi अचानक ज़ोर-ज़ोर से हंसने लगी।

हंसते हुए bhabhi बोली, क्या हुआ मजनू..? गांड फट गई इतने में ही? मुझे पता था कि तू मेरे ही चक्करों में इधर घूम रहा है। मैं जानती थी कि तू मेरे बच्चों को chocklate क्यों देता है। लेकिन मैं देखना चाह रही थी कि तेरी गांड में कितना दम है?

मैं bhabhi की बात सुनकर हैरान था. कुछ देर तक मैं सोच में पड़ गया था। लेकिन bhabhi के मुंह से ऐसी अश्लील बातें सुनकर मेरे अंदर भी himmat आ गई थी। मैंने कहा- bhabhi तुमने तो मुझे डरा ही दिया था। मुझे तो अब bhabhi ki chudai करने का बहोत मन हो रहा था।

मैंने हवस वाली भाषा में उससे कहा कि आज तेरी चूत को ऐसे चोदूंगा कि वो दोबारा लंड अंदर लेने से पहले कई बार सोचेगी।

मैंने bhabhi को अपनी तरफ जोर से खींचा। और पकड़ कर उसके गले पर kiss देना शुरू कर दिया। अगले ही पल मैंने bhabhi के ब्लाउज को खोल दिया। और उसको पीछे से घुमा लिया। और उसकी पीठ को पीछे से चाटने लगा।

bhabhi के मुंह से सिसकारियां निकलना शुरू हो गई थी। Garam होने के बाद bhabhi ने भी अपनी तरफ से शुरूआत कर दी। उसने मेरा शर्ट निकाल फेंक दिया। और मेरी छाती को चूमने लगी। bhabhi मुझे चूमते हुए bhabhi गालियाँ भी दे रही थी। साले तड़पा मत अब मुझे, मेरा पति तो साला job पर चला जाता है, बच्चे निकाल कर kamine ने मुझे चुदाई का मजा देना ही छोड़ दिया। अब मैं अपनी उंगली से ही अपनी चूत को शांत कर लेती हूँ।

धीरे-धीरे kiss करते हुए मैंने bhabhi को bed पर लेटा लिया और फिर उसकी साड़ी को खोलना शुरू कर दिया। bhabhi साड़ी में लिपटी हुई किसी नागिन के जैसे लहरा रही थी। पहली बार मैंने इतनी sexy औरत देखी थी। bhabhi के ब्लाउज को उतार कर मैंने उसके boobs को नंगा कर दिया। और उसके boobs से दूध को पीने लगा। वह ऊपर से नंगी होकर नीचे से सिर्फ petocoat में मेरे सामने पड़ी हुई अपने चूचों को चुसवा रही थी।

वह हर पल garam होती जा रही थी।

फिर मैंने bhabhi का peticoat भी उतार दिया। और उसकी blue चड्डी को किस कर दिया। उसकी चूत पहले ही गीली हो चुकी थी। मैंने उसकी टांगों को side कर के उसकी चूत को चड्डी के ऊपर से ही रगड़ना चालू किया।

वह झलझला उठी, कांप उठी, तड़प उठी। उसने मुझे अपने ऊपर गिरा लिया और मेरे होठों को kiss करने लगी। फिर bhabhi ने मुझे अपने नीचे लेटा लिया। उसने मेरी pant को खोल दिया और मैंने झट से अपनी pant को अपनी टांगों से नीचे करते हुए बिल्कुल अलग कर दिया।

Bhabhi ki chudai
Bhabhi ki chudai

मेरे अंडरवियर में मेरा लंड नाच रहा था। bhabhi ने मेरे लंड को चड्डी के ऊपर से ही kiss कर दिया। bhabhi के होठों की छुअन से मेरे लंड में जैसे ताजगी सी दौड़ गई। और मेरा लंड जोर की शक्ति के साथ झटके देने लगा।

अब मैंने bhabhi को फिर से अपने नीचे गिरा लिया और उसकी चड्डी को उतार कर उसकी चूत पर होंठ रख दिए। इस्स्स्स … स्स्स्स्स … आह्ह्ह … करती हुई bhabhi बिस्तर की चादर को नोंचने लगी।

कविता bhabhi इतनी garam हो गई थी कि, उसकी चूत से निकलने वाला पानी मेरे मुंह को गीला करने लगा था। फिर bhabhi से रहा नहीं गया। उसने मुझे नीचे पटक दिया और मेरी underwear को नीचे खींच कर एकदम से मेरे लंड को अपने मुंह में ले लिया। bhabhi मेरे लंड को पूरा अंदर तक ले जाती हुई छिनाल की तरह चूसने लगी। मेरे शैतानी दिमाग ने काम किया और मैंने अपनी जेब से chocklate निकालकर अपने लंड पर मल दी। bhabhi मेरे चॉकलेटी लंड को और प्यार से चूसने लगी।

मैंने कहा bhabhi और प्यार से चूस…… तुझे ऐसा ही लंड चाहिए था न। तेरी चूत में बहुत गर्मी है न, पति के होते हुए भी मुझसे चुद रही है साली। बहन कि लौड़ी…. चूस मेरे लंड को, अच्छी तरह चूस।

उसने इतने मज़े से मेरे लंड को चूसा कि मैं 15 मिनट में ही झड़ गया। मैंने सारा माल उसके मुंह में डाल दिया। Chocklate लगा हुआ सारा माल उसके मुंह से गिर रहा था। वह रंडियों की तरह मेरे लंड को चूसती ही जा रही थी। मुझे भी बहुत मजा आ रहा था। मैंने उसको उठाकर फिर से अपनी बाहों में ले लिया। और उसे चूमने लगा। उसकि चूचियों को चूसने लगा। वह जल्दी ही दोबारा गर्म हो गई।

मैं अब नीचे उसकी चूत की तरफ आगे बढ़ा। उसकी चूत को देखकर लग भी नहीं रहा था कि इसमें से दो bacche निकाले हुए हैं। फिर मैं उसकी गोरी सी चूत को चूसने लगा। उसकी चूत से अलग ही महक आ रही थी। उसकी चूत की महक ने मुझे दीवाना कर दिया था। उसकी चूत की smell मेरे अंदर vigra का काम कर रही थी। मेरा लंड भी वापस खड़ा हो गया था।

वह बोल पड़ी की बस कर मादरचोद! अब क्या चाट-चाटकर ही गीली करेगा मेरी चूत को या अपना वीर्य भी गिराएगा इसके अंदर?

मैंने कहा थोड़ा रुक, अभी चोदता हूँ तुझे। फिर मैंने उसकी एक leg को उठाया और अपने गले में डाल दिया। और फिर अपना तना हुआ लंड उसकी चूत पर रगड़ने लगा। उसकी चूत मस्त गीली हो चुकी थी। मेरे एक झटके में ही पूरा लंड अंदर घुस गया। वह चीख उठी- साले, भोसड़ी के, कुत्ते की औलाद, चूत फाड़ दी मेरी…मादरचोद। मैंने कहा मेरे लंड का यही तो कमाल है, की वो किसी भी औरत को दर्द दे सकता है। फिर वो बोली की ठीक है सिर्फ आराम आराम से चोदना। मैंने कहा ये मेरी gaurantee नहीं है। एक बार मै garam हो गया तो फिर मै मेरे बाप की भी नहीं सुनता।

फिर मैंने उसे धीरे धीरे bhabhi ki chudai करना चालू किया। उसके मुंह से मादक भरी आवाजे निकलना चालू हो गई थी। आह….अह्ह्ह्ह्ह…. अह्ह्ह्….

 वो मादक भरी आवाजे मुझे और ज्यादा उत्तेजित कर रही थी। कुछ देर में ही मै उसे जोर जोर से अपनी पूरी ताकत से चोदने लगा। मेरे हर झटके के साथ उसके boobs भी जोर जोर से हिल रहे थे।

उसे भी बहुत मजा आ रहा था। मै उसे लगभग 2 घंटे तक चोदता रहा। इस दौरान मै और वो 4 बार झड़ चुके थे। मैंने सारा वीर्य उसकी चूत में हो डाल दिया था। उसे मेरी लंबी चुदाई से बहुत मजा आया था। और मुझे भी इतनी sexy bhabhi ki chudai करने में बहुत मजा आया था।

मुझे पता है आपके मन में भाभी के बारे में बहोत सारे सवाल होंगे , तो आज मैआपके सभी सवाल के जवाब देने की कोशिश करता हु, ताकि आपको भी किसी भाभी को पटाके चोदने का मौका मिले। इंटरनेट पर सबसे फेमस है आपकी और मेरी सविता भाभी 😄, तो मई आज उसी से जुड़े सवाल के जवाब देता हु.

Who is savita bhabhi

Humare bhartiya sanskriti me bhabhi ek pavitra shabd hai, lekin aaj ke is vasna bhare daur me logo ne is shabd ke matlab hi badal diye hai, halanki isme un logo ka bhi koi dosh nahi, kyu ki ajkal bhabhi aur kunwari ladkiya bhi phone par sey video dekhati hai, jiske karan unke man me bhi vasna jaad uthati hai, isi wajah se shayad humari savita bhabhi ke chut me bhu khujali uth gayi hogim aur savita bhabhi ne internet par aa kar aag laga di.

Aapko bata du, ki sabse pahle savita bhabhi ne sex chatting ke jariya ladko ke saath dosti ki, jiske baad kai ladko ne savita bhabhi ke saath sex ka bharpur maja uthaya.

Baad me bhabhi ke naam par ek comics nikali, jo ki bahot hi jyada famous hui, India me to log is comics ke diwane hai. Lekin jaise jaise daur badalte gaya, logo ka interest bhi comic se kam hote gaya, isliye log ajkal chudai ki kahaniya padhte hai, kyo ki isme humari kalpana se humari vasna jagrut hoti hai.

Fir kya, comic se famous hone ke baad to jaise savita bhabhi ki kismat hi khul gayi, aur log unke aur bhi jyada diwane hone lage.

Ye hai savita bhabhi ka asli sach, ummid karta hu, apko savita bhabhi ki ye jankaro acchi lagi hogi.


कहानी कैसी लगी इस बारे में नीचे comment करे।

Related Stories

मजबूरी में चुदाई का काम – Call boy sex job service

Antarvasana के सभी पाठकों को का मेरे यानी गुरप्रीत की तरफ से स्वागत है। उम्मीद करता हु की आपको Antarvasna की सभी chudai ki kahani बहुत पसंद आती होगी। यह मेरी दूसरी kahani है। मेरी पहली sex kahani आप सब ने पढ़ी ही होगी। जिन्होंने मेरी पहली call boy kahani नहीं पढ़ी मै उनके लिए

पूरी कहानी पढ़ें »

लेडी डॉक्टर की गांड चुदाई

Sexdunia.in पर मेरी ये पहली कहानी है। मैंने Antarvasna पर कहीं कहानियां पढ़ी है। जिससे मुझे Doctor कि चुदाई में बहुत Help हुई। मुझे Antarvasna की सहेली को मेरे पति से मैंने हो चुदवाया यह कहानी बहुत पसंद आई थी। आप भी इसे पढ़िएगा। चलिए मेरी कहानी की शुरुवात करते है। यह कहानी पिछले महीने

पूरी कहानी पढ़ें »

आंटी को पटाया और चोदा

मेरा नाम अखिल है और मैं पटना के एक गाँव का रहने वाला हूँ, मैं अपने लंड के साईज के बारे में बढ़ाई कर टाइम बर्बाद नहीं करूँगा, आप मेरी aunty sex stories से खुद समझ जाइयेगा कि मेरा लंड किसी प्यासी भाभी या औरत को संतुष्ट कर खुश रख सकता है या नहीं। यह

पूरी कहानी पढ़ें »