16 साल के लडकी की वासना

सेक्स दुनिया में पढ़े कि, मुझे एक सोला साल कि लड़की को चोदने का मौका मिला। उसने ही मेरे मन में सेक्स करने के लिए  हवस जगाई। इसीलिए मैंने उसकी ताज़ी चूत में अपना लंड डाल दिया।

मेरा नाम सरफराज है। मै सेक्स दुनिया की कहानियां हमेशा ही पढ़ता रहता हूं। आज मुझे भी ऐसा लगा कि मुझे भी अपनी सेक्स कि कहानी सेक्स दुनिया पर डालनी चाहिए। इसीलिए आज मै आपको अपनी सच्ची कहानी बता रहा हु।

मै मुरादाबाद का रहने वाला हु। मेरा अभी ग्रैजुएशन का दूसरा साल चल रहा है। मेरा कद 5.6 फीट का है। मै बहुत गोरा हु। मैंने अपने डोले शोले बहुत अच्छे बनाए है। मेरा लंड 5.4 इंच का और बहुत जाड़ा है।

मेरे मोहल्ले में एक लडकी रहती है। उसकी उमर अभी 16 साल है। उसका नाम शनाया है।

उसका शरीर बहुत ताजा माल है। उसके बूब्स बहुत अच्छे है। वो बहुत गोरी है। कोई भी उसे देखे तो उसका उसे चोदने का मन करे। 

शनाया मेरे घर के आगे ही रहती है। उसके घर के हमारे घर के साथ अच्छे सम्बन्ध है। शनाया कि मम्मी हमेशा हमारे घर आती जाती रहती है।  कभी कभी शनाया भी मेरे घर आती है। जब वो बहुत छोटी थी तब से मेरे साथ खेल रही है।

मै जब अपने घर के टेरेस पर जाता हु। तब कभी कभी वो मुझे दिखती थी। उसका गोरा बदन देख कर मेरा उसे चोदने का मन करता था। पहचान होने के कारण वो मुझे उसके घर से हाय बोलती है।

उसका गोरा बदन देखने के बाद मै बाथरूम में जाकर मूठ मार लेता हूं। मै उसे चोद नहीं सकता था। क्योंकि मेरे लिए तो वो बच्ची ही थी। क्योंकि मै उसे बचपन से जानता था। लेकिन उसे चोदने कि भावना मेरे मन में आती ही रहती थी।

वो महीने में उसके दसवीं के पेपर चल रहे थे। और मेरी ग्रैजुएशन के पेपर की तैयारी चल रही थी। एक दिन मै अपने कंप्यूटर पर गंदे फोटोज देख रहा था। और बाहर से मुझे एक आवाज़ आई। आंटी सरफराज भैया घर पर है क्या।

मैंने मेरी मां से पूछा कि मां कोण आया है। तो मेरी मां बोली कि शनाया आई थी। वो तुमसे अपनी पढ़ाई के बारे में कुछ पूछना चाहती है। उसे समझा देना। मैंने कहा ठीक है। मै पहले ही गंदे फोटोज देख रहा था। उसमे से अब सेक्सी शनाया भी आ रही थी तो मेरे मन में खलबल मच गई थी।

शनाया आ गई। मैंने अपने कंप्यूटर के ऊपर दूसरा पेज लगा लिया। वो आ कर मेरे बेड पर बैठ गई। तभी मेरी मां की आवाज़ आई कि सरफराज तुम शनाया को सबकुछ समझा देना मै उसके घर जा रही हूं। अब  घर  में सिर्फ हम दोनो ही थे।

उसने अपनी किताब खोली। मै उसके बाजू में बैठ गया। मै उसे सिखाने लगा। सिखाते सिखाते मेरे हाथ उसके हाथो को रगड़ रहे थे। मेरा लंड खड़ा होने कि कगार पर था। थोड़ी देर पढ़ने के बाद मै उसके सामने जा कर अपनी पढ़ाई करने लगा।

वो अपने किताब में झुक कर पढ़ाई कर रही थी। मेरा ध्यान उसके बूब्स की तरफ गया। उसके बूब्स मेरे हाथ में पूरे आने जितने ही बड़े थे। मेरा लंड खड़ा हो गया। कुछ देर तक मै उसके बूब्स को ही देख रहा था। उसको दिख गया कि मै उसके बूब्स को देख रहा था। लेकिन उसने कुछ नहीं बोला। तब उसने मेरे नीचे देखा तब मेरा खड़ा लंड उसको दिखा।

मुझे पता लग गया था कि वो मेरे लंड को देख रही है। तब मुझे शर्म आने लगी थी। लेकिन वो एकटक मेरे लंड को देख रही थी। उसकी नजरें मेरे लंड से हटने का नाम नहीं ले रही थी। 

तब उसने मुझसे एक सवाल पूछा। वो बोली कि क्या तुम्हारी कोई गर्ल फ्रेंड है। मैंने कहा नहीं अभी तो फिलहाल नहीं है। तो बोली आपको एक गर्लफ्रेंड चाहिए क्या मेरी एक दोस्त सिंगल है। मैंने कहा मै गर्ल फ्रेंड तो बना लूंगा लेकिन मै शादी नहीं कर पाऊंगा। वो बोली उसको भी शादी वाला लड़का नहीं सिर्फ उसे सूखी रखने वाला लड़का चाहिए। 

मैंने कहा फिर तो वो लडकी मुझे चलेगी। मैंने कहा कोण है वो लडकी। तो वो बोली कि आपके सामने बैठी है। मैंने कहा तुम मजाक तो नहीं कर रही हो ना। वो बोली नहीं मै कब से आपको बता ने कि कोशिश कर रही थी। लेकिन मेरी हिम्मत नहीं हो रही थी।

फिर मैंने उससे पूछा कि आज तुम्हारी कैसे क्या हिम्मत हो गई। तो वो बोली कि आज तुम्हारी आंखो में मुझे सुख देने की मतलब मेरे लिए हवस भरी हुई थी इसीलिए।

मैंने उससे कुछ नहीं बोला। मैंने बोला तुम पढ़ाई में ध्यान दो मै कंप्यूटर पे अपना कुछ 

काम कर लेता हूं। मै कंप्यूटर के पास चला गया। वो बोली मुझे भी कंप्यूटर सीखना है। वो भी मेरे साथ ही कंप्यूटर के खुर्ची पर बैठ गई।

उसके हाथ मेरे हाथ को रगड़ रहे थे। मै कंप्यूटर में अपने काम कर रहा था। तब वो बोली कि सरफराज आपने मुझे मेरे सवाल का जवाब नहीं दिया है ना। मैंने बोला तुम पागल हो गई हो क्या। वो बोली कि नहीं मै सच बोल रही हूं। फिर उसने मेरे कंप्यूटर को हाथ लगाया। और पहले का गंदे फोटोज वाला पेज उसने गलती से खोल दिया। 

उसने बोला अच्छा मेरे आने से पहले तुम ये पढ़ाई कर रहे थे। मैंने कहा तो क्या हुआ मै तो एक लड़का हु मै कुछ भी कर सकता हूं। वो बोली अगर तुम कुछ भी कर सकते हो तो मेरे साथ भी कुछ  करो ना।

उसने मेरा हाथ पकड़ लिया। मैंने कहा अब ये क्या कर रही हो। उसने कुछ ना बोलते हुए मेरे ओठो को चूमना चालू किया। कुछ देर तक वो मेरे ओठो को चूमती रही। फिर मैंने भी उसे चूमना चालू किया। हम दोनो खड़े हो गए। मैंने उसे अपनी बाहों में कसकर पकड़ लिया। उसने भी मेरी बाहों को कसकर पकड़ लिया। फिर हम दोनो एक दूसरे के ओठो को चूमने लगे।

उसके ओंठ बहुत ताजे थे। ऐसा लग रहा था कि उसके ओठो को चूमने वाला मै पहला ही इंसान हु। मैंने उससे पूछा कि क्या तुमने पहले कभी सेक्स किया है। वो बोली कि नहीं पर अपनी चूत में खुदकी ऊंगली बहुत बार डाली है।

मैंने कहा कि क्या तुम आज सिर्फ किस पर ही मानोगी या फिर मेरे साथ सेक्स करना चाहोगी। वो बोली कि अब इतना आगे बढ़ ही गए है तो सेक्स कर ही लेते है ना। मैंने कहा ठीक है।

फिर मैंने उसके कपड़े के ऊपर से ही उसके बूब्स दबाना चालू किया। उसको बहुत मजा आने लगा था। फिर उसने मुझे चूमना चालू किया। फिर मैंने उसकी ऊपर कि कुर्ती निकाली। उसने नीले कलर की ब्रा पहनी हुई थी। और उस ब्रा के अंदर उसके  बूब्स छुपे हुए थे।

मैंने उसकी ब्रा को निकाला। उसके ताजे बूब्स मेरे सामने थे। उसकी चूचियां गुलाबी रंग कि थी। ऐसा लग रहा था कि मै ही पहला लड़का रहूंगा जो इसकी चूची यो से दूध पीऊंगा।

मैंने अपने हाथो से उसकी चूचियों को रगड़ना चालू किया। उसे बहुत मजा आ रहा था। फिर मैंने उसकी चूचियां अपने मुंह में ले ली। उसे बहुत मजा आ रहा था। वो अपने नाखून मेरे पीठ पर घिस रही थी।

फिर मैंने उसकी पैंट निकाली। वो मेरे सामने चड्डी पर खड़ी थी। फिर मैंने अपना शर्ट पैंट निकाला और उसके सामने चड्डी पर खड़ा हो गया। अब हम दोनो भी एक दूसरे के सामने चड्डी पर खड़े थे। मैंने उसे गले लगा लिया। और उसने मुझे चूमना चालू किया।

फिर वो बोली कि मैंने आज तक किसी का लंड देखा नहीं है। तो क्या मै तुम्हारा लंड देख सकती हु। मैंने कहा हां बिलकुल तुम मेरा लंड देख सकती हो। वो बोली फिर अपनी चड्डी उतारो। मैंने कहा तुम ही मेरी चड्डी उतार लो।

वो मेरे छाती से चूमते चूमते नीचे चली गई। उसने मेरी चड्डी उतारी। मेरा इतना बड़ा लंड देख कर वो डर गई। और बोली इतना बड़ा और जाड़ा लंड होता है क्या। मैंने कहा हां।

फिर मैंने उससे कहा कि मेरे लंड को पकड़ लो। उसने मेरे लंड को पकड़ लिया। फिर मैंने उसे बोला कि मेरे लंड को अपने मुंह में ले लो। वो बोली इतना बड़ा लंड मेरे मुंह में नहीं जायेगा। मैंने कहा एक बार कोशिश तो कर लो।

उसने मेरे लंड को अपने मुंह में ले लिया। फिर मैंने उसके मुंह में ही आराम आराम से झटके मारना चालू किया। फिर उसने भी मेरे लंड को चूसना चालू किया। मुझे अच्छा लग रहा था।

फिर मैंने उसे खड़ा किया और उसे अपने पलंग पर सुला दिया। फिर मैंने उसकी चड्डी निकाली। उसकी गुलाबी ताज़ी चूत थी। उसके चूत पर एक भी बाल नहीं था। मुझे उसकी चूत बहुत पसंद आ गई थी।

मैंने उसकी चूत को चाटना चालू किया। तब उसकी मादक भरी आवाजे चालू गई थी। आह…..आह…….अह्ह्ह्ह्ह्…….

कुछ देर उसकी चूत कि चुसाई करने के बाद मैंने अपना लंड उसकी चूत के ऊपर रख दिया। उसने मुझसे कहा कि आराम से करना ये मेरा पहली बार है। मैंने कहा ठीक है।

मैंने उसकी चूत में धीरे धीरे अपना लंड डालना चालू किया उसकी चीखे जोर से निकल रही थी। उसकी चूत से खून निकलना चालू हुआ। मेरा लंड उसकी चूत में पूरा घुस गया। मैंने उसके मुंह पे हाथ रख दिया। 

मेरा लंड मैंने बाहर निकाला तो उसका खून मेरे लंड पर लग गया था। फिर मैंने अपना लंड फिर से अंदर डाल दिया। शनाया को बहुत दर्द हो रहा था तो वो अपनी चूत सिकुड़ रही थी। 

मैंने उसे आराम आराम से धक्के मारना चालू किया वो जोर जोर से चीखने लगी। आह…. आह….आराम से…..आह… 

फिर मै उसके ऊपर सो गया। और उसके ओठो को चूमने लगा। चूमते चूमते मै उसे चोद भी रहा था। कुछ देर कि चुदाई के बाद उसका दर्द कम हो गया था और उसे मजा आने लगा था।

फिर चुदाई में वो भी मेरा साथ देने लगी। फिर मैंने उसे जोर जोर से धक्के मारना चालू किया। उसे सेक्स का सुख मिल रहा था। उसे बहुत मजा आ रहा था। मुझे भी ताज़ी चूत को चोद कर बहुत मजा आ रहा था।

15 मि. कि चुदाई के बाद उसकी चूत के बाहर लंड निकाल के मै झड़ गया। और वो भी मेरे साथ ही झड़ गई।

फिर हमने कपड़े पहन लिए। और फिर से एक दूसरे को चूमने लगे। मैंने उससे पूछा कि क्या तुम्हे मजा आया। वो बोली पहले तो मुझे बहुत दर्द हुआ लेकिन धीरे धीरे मुझे बहुत सुख मिलता गया। वो बोली थैंक यू सरफराज। मैंने कहा अब कभी भी तुम्हारी इच्छा हो तो मुझे बता देना। आज से मै तुम्हारा बॉयफ्रेंड हु।

थोड़ी देर बाते करने के बाद वो अपने घर चली गई।  16 saal ki ladki ki chudai ki कहानी कैसी लगी इस बारे में कॉमेंट करे।

Related Stories

दोस्त के गर्लफ्रेंड की चुदाई

सभी पाठको का सेक्स दुनिया पर स्वागत है। मेरा नाम चुलबुल है। मै बनारस का रहने वाला हु। मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है। लेकिन मै अपने दोस्त की गर्लफ्रेंड पर लाइन मारता था। मै उसे चोदना चाहता था। ये मेरी ख्वाहिश पूरी हुई थी। मै आपको आज उसी girlfriend cheating के बारे में बताने वाला

पूरी कहानी पढ़ें »

गांव कि कुंवारी चूत

सेक्स दुनिया पर आप सब पाठको का स्वागत है। आज कि कहानी में पढ़े कि, मै शहर में रहता हूं। मेरा खेत एक गांव में है। मै अपने गांव में अपने खेत को देखने के लिए गया था। तब मुझे गांव के कुंवारी लड़की की कुंवारी चूत चोदने का मौका मिला था। पहले मैं अपने

पूरी कहानी पढ़ें »

फेसबुक पर मिली लडकी की चुदाई।

कुंवारी लड़की की चुदाई की कहानी में आपका स्वागत है। सेक्स दुनिया पर आने वाले सभी पाठको का स्वागत है। उमिद करता हु कि आज आप ये कहानी पढ़कर अपने बंटी की घंटी ज़रूर बजाओगे। आज कि कहानी में पढ़े कि मुझे फेसबुक पर एक लड़की मिली थी। हमने बहुत सारे बाते कि थी। हमने

पूरी कहानी पढ़ें »